इन 7 कारणों से सिद्धार्थ शुक्‍ला को ही बनना चाहिए ‘बिग बॉस-13’ का विनर! ‘महिला-पुरुष को बराबर सम्‍मान’

Bigg boss 13 contestant siddharth shukla biography in hindi‘बिग बॉस’ सीजन-13 की शुरुआत जहां थोड़ी बोझिल हुई थी, वहीं अंत आते-आते यह मनोरंजन की पराकाष्‍ठा पर है। इस रिएलिटी शो में इतना कुछ हो रहा है क‍ि देश तो छोड़‍िए विदेश के लोग भी ‘बिग बॉस’ के विनर को लेकर बैटिंग करने में लग गए हैं। शो के दो सबसे बड़े ख‍िलाड़ी हैं सिद्धार्थ शुक्‍ला और आसिम रियाज। शो जब शुरू हुआ तो दोनों बहुत अच्‍छे दोस्‍त हुआ करते थे। लेकिन अब दोनों में घनघोर दुश्‍मनी है। दोनों की फैन फॉलोइंग जबरदस्‍त है। लेकिन क्‍या सिद्धार्थ शुक्‍ला का पलड़ा भारी है?

बहुत तगड़ी है सिद्धार्थ की फैन ब्र‍िगेड
यह सवाल इसलिए कि सिद्धार्थ मशहूर टीवी ऐक्‍टर हैं और उनकी फैन ब्रिगेड पहले से कमर कसकर बैठी है। फैन लिस्‍ट में सिद्धार्थ हमेशा टॉप पर रहते हैं। हम आज आपके लिए 7 ऐसे कारण लेकर आए हैं, जिससे यही समझ आता है कि सिद्धार्थ को ही बिग बॉस-13 का विनर बनना चाहिए।


1. लड़ते हैं, लेकिन कभी पीछे नहीं हटते
‘बिग बॉस’ के घर में बीते 3 महीनों में खूब तमाशा हुआ है। कई मुद्दों पर खूब लड़ाई-झगड़े हुए हैं। टास्‍क के दौरान और टास्‍क के बाद कई बार ऐसा हुआ, जब सिद्धार्थ ने अपना स्‍टैंड बनाए रखा। उनका एटिट्यूड कभी भी ‘छोड़ो, जाने दो’ वाला नहीं दिखा। आसिम से उनका कई बार झगड़ा हुआ है, लेकिन वह हर बार दोस्‍त की तरह भी पेश आते दिखे हैं

  1. बीमार हुए, लेकिन शो नहीं छोड़ा
    ‘बिग बॉस’ में कई बार कंटेस्‍टेंट्स को चोट लगी है। लेकिन सिद्धार्थ शुक्‍ला बीमार हो गए। उन्‍हें टाइफॉइड हुआ। करीब दो महीने तक सिद्धार्थ शुक्‍ला दवाई खाते रहे, लेकिन उन्‍होंने इस दौरान भी हर टास्‍क में हिस्‍सा लिया। पूरे डेडिकेशन के साथ। बिल्‍कुल एक योद्धा की तरह।

  2. जबरदस्‍त टास्‍क मास्‍टर
    जब कभी किसी टास्‍क की बात आती है, सिद्धार्थ सबसे आगे रहते हैं। फिर चाहे अकेले टास्‍क पूरा करना हो या टीम के साथ। सिद्धार्थ स्‍ट्रैटजी बनाने में भी माहिर हैं। वह अपनी टीम को मोटिवेट करते हुए भी नजर आते हैं। एक बेहतरीन टीम लीडर वाले गुण सिद्धार्थ में हैं।

  3. सभी को करते हैं एंटरटेन
    सिद्धार्थ शुक्‍ला गजब के एंटरटेनर भी हैं। शो में उनके वन-लाइनर्स घर के सदस्‍यों और बाहर दर्शकों को खूब पसंद आते हैं। उनके ह्यूमर की कई बार तारीफ भी हो चुकी है। इसमें कोई दोराय नहीं है कि सिद्धार्थ को गुस्‍सा बहुत जल्‍दी आ जाता है, लेकिन साथ ही वह हंसाने में भी कोई कसर नहीं छोड़ते हैं।

  4. महिला-पुरुष को बराबर सम्‍मान, वुमन पावर को सपोर्ट
    सिद्धार्थ एक सबसे बड़ी खूबी यह है कि वह जेंडर ईक्‍वैलिटी पर जोर देते हैं। पहले दिन से ही उन्‍होंने घर में महिलाओं और पुरुषों को बराबर सम्‍मान दिया है। सही हो या गलत सिद्धार्थ ने कभी जेंडर लेवल पर कोई पक्षपात नहीं किया। सलमान भी एक बार ‘वीकेंड के वार’ में सिड की इस कारण तारीफ कर चुके हैं। वह हमेशा से वुमन पावर के समर्थक ही दिखे हैं।
  5. SidNaaz की जोड़ी
    इसमें कोई दोराय नहीं है कि सिद्धार्थ और शहनाज की जोड़ी ने ‘बिग बॉस’ को सबसे ज्‍यादा टीआरपी बटोर कर दी है। आपस में दोनों जिस तरह बातें करते हैं, दर्शक उन्‍हें खूब पसंद करते हैं। बीते दिनों एक एपिसोड में जिस तरह सिद्धार्थ ने शहनाज गिल को नसीहत दी और वादा लिया कि वह कभी खुद को नुकसान नहीं पहुंचाएंगी। यह बात दिल को छू गई। खासकर तब जब सिद्धार्थ ने शहनाज से कहा कि शो के बाद भी जिंदगी में जब कभी उन्‍हें किसी भी तरह की जरूरत हो वह उनके साथ खड़े रहेंगे… एक दोस्‍त होने के नाते इससे बड़ा वादा कोई और क्‍या कर सकता है।

  6. एक मैच्‍योर इंसान, जो सही सलाह देता है
    सिद्धार्थ शुक्‍ला एक मैच्‍योर इंसान हैं। लड़ाई-झगड़ों से इतर जब कभी शो में किसी साथी को मोटिवेशन की जरूरत होती है, सिद्धार्थ सबसे पहले उसके साथ खड़े होते हैं। आसिम रियाज से लाख झगड़े के बावजूद उन्‍होंने हमेशा उसे सही सलाह दी कि वह अपने ईगो पर कंट्रोल करें। कैप्‍टेंसी टास्‍क के दौरान उन्‍होंने देवोलीना को कोई टास्‍क नहीं दिया, क्‍योंकि वह बीमार थीं। इतना ही नहीं, मी-टू मामले में भी उन्‍होंने कंटेस्‍टेंट्स की आंखें खोलने का काम किया

adin

Leave a Reply

Next Post

सिद्धार्थ की मां ने बिग बॉस को कहा थैंक्यूं, बोलीं- ट्रॉफी संग उससे मिलूंगी

Tue Feb 11 , 2020
‘बिग बॉस’ सीजन-13 की शुरुआत जहां थोड़ी बोझिल हुई थी, वहीं अंत आते-आते यह मनोरंजन की पराकाष्‍ठा पर है। इस रिएलिटी शो में इतना कुछ हो रहा है क‍ि देश तो छोड़‍िए विदेश के लोग भी ‘बिग बॉस’ के विनर को लेकर बैटिंग करने में लग गए हैं। शो के […]