महीने में सिर्फ एक बार लेनी होगी ये गर्भनिरोधक पिल,रोज रोज की नहीं रहेगी टेंशन

महिलाएं रोजाना गर्भनिरोधक गोली के सेवन को याद रखने के लिए ना जाने क्या क्या तरीके अपनाती हैं। फोन में अलार्म से लेकर कैलेंडर पर मार्किंग तक करती हैं। मगर फिर रोजाना के कामकाज और भागदौड़ की वजह से कई बार महिलाएं अपनी ऑरल कॉन्ट्रसेप्टिव पिल लेना भूल जाती हैं। ऐसा होने पर उनके दिमाग में एक नई टेंशन शुरू हो जाती है। एक दिन भी दवा भूल जाने का मतलब है प्रेगनेंट होने का खतरा होना। महिलाओं द्वारा रोज रोज गर्भनिरोधक गोली लेने की परेशानी का हल वैज्ञानिकों ने ढूंढ लिया है।

कैसे करेगी ये दवा काम ये दुनिया में अपनी तरह की पहली ऐसी दवा होगी। महीने में सिर्फ एक बार ली जाने वाली गर्भनिरोधक गोली तैयार करने का काम किया जा रहा है। वैज्ञानिकों के मुताबिक 3 से 5 साल में ये दवा बाजार में उपलब्ध होगी। यूनिवर्सिटी ऑफ पिट्सबर्ग में परिवार नियोजन विशेषज्ञ बीट्राइस चेन ने दावा किया है कि उन्होंने ऐसी प्रणाली की खोज की है जिससे कई दिनों, हफ्तों या एक महीने तक पेट में दवा को रखा जा सकता है। वैज्ञानिक एक कैप्सूल में ही महीने भर की जरूरी गर्भनिरोधक आपूर्ती को बदल देंगे। ये दवा एक सितारे की तरह होगी जो पेट में जाकर परतदर परत खुलेगी। इस दवा की पैकिंग से हर रोज खुराक धीरे धीरे निकलेगी और शरीर को उतनी ही मात्रा में दवा मिलती रहेगी जितनी जरूरत होती है। इस तरह ये दवा पूरे महीने शरीर को सप्लाई दे सकेगी।

Read  संतुष्ट नहीं हुआ तो जानिए कितनी देर तक सेक्स करने से संतुष्ट होती है महिलांए

दवा पर काम जारी फ़िलहाल वैज्ञानिकों का यह दावा अभी प्रोयोगिक स्तर पर है। जानवरों पर इसके प्रयोग का रिस्पांस सकारात्मक आया है। अभी इसे इंसानों के उपयोग लायक बनाने में थोड़ा समय लग सकता है। वैज्ञानिक इस पर काम कर रहे हैं। इतना ही नहीं, बिल एंड मिलिंडा गेट्स फाउंडेशन इस शोध के लिए 13 मीलियन डॉलर यानी डेढ़ करोड़ रुपए निवेश करने की घोषणा कर चुका है।

master gossip

Leave a Reply

Next Post

सलमान खान बोले- अगले सीजन में कपिल शर्मा जाएगा!... video

Sat Dec 14 , 2019
महिलाएं रोजाना गर्भनिरोधक गोली के सेवन को याद रखने के लिए ना जाने क्या क्या तरीके अपनाती हैं। फोन में अलार्म से लेकर कैलेंडर पर मार्किंग तक करती हैं। मगर फिर रोजाना के कामकाज और भागदौड़ की वजह से कई बार महिलाएं अपनी ऑरल कॉन्ट्रसेप्टिव पिल लेना भूल जाती हैं। [...]